रायबरेली में फहराया जाएगा देश का सबसे ऊंचा तिरंगा

देश का सबसे ऊंचा राष्ट्रीय ध्वज जल्द ही रायबरेली में फहराया जाएगा। इसके बाबत तैयारी तेजी से की जा रही हैं। लालगंज स्थित मॉडर्न रेलकोच फैक्टरी में देश में सबसे ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज को फहराने की तैयारी चल रही है। पहले इसे Independence day पर ही फहराया जाना था लेकिन तकनीकी कारणों से अभी इसके पूरा होने करीब दो महीने लग सकते हैं।

फैक्टरी के आवासीय परिसर में लगाये जा रहे इस ध्वज की बेस से पूरी ऊंचाई करीब 117 मीटर या 384 फीट होगी, जबकि ध्वज की लंबाई 120 फीट और चौड़ाई 80 फीट होगी। केवल ध्वज का ही वजन करीब 34 किलोग्राम रहने का अनुमान है। इसकी स्थापना के लिए दिल्ली की एक कंपनी को ठेका दिया गया है और इसकी लागत करीब तीन करोड़ बताई जा रही है।

रेलकोच में लगाये जाने वाला यह राष्ट्रीय ध्वज पूरे भारत में लगे अब तक के ध्वजों में सबसे ऊंचा माना जा रहा है। इसके पहले India Pakistan सीमा पर बाघा बार्डर पर 2017 में सबसे ऊंचा तिरंगा फहराया गया था जिसकी ऊंचाई 369 फीट थी। 2018 में कर्नाटक के बेलगाम में 360.80 फीट के झंडे को सबसे ऊंचा झंडा माना गया था।

फरवरी 2019 में मेरठ के वल्दीपुर में इस रिकॉर्ड को तोड़ते हुए 380 फीट का तिरंगा फहराया गया था और अब तक का यह सबसे ऊंचा तिरंगा है, लेकिन रेल कोच में निर्माणाधीन राष्ट्रीय ध्वज के पूरा होने के होने से यह यह तमगा अब रायबरेली के हिस्से में आएगा जिसकी अब तक कि सर्वाधिक ऊंचाई 384 फीट होगी। रेलकोच फैक्टरी के जनसंपर्क अधिकारी आरपी शर्मा के अनुसार देश के सबसे ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज के लिए तैयारियों को जल्द ही पूरा कर लिया जायेगा और यह रेलकोच सहित रायबरेली के लिए एक गौरव होगा।

loading...

Leave a Comment