Facebook को यूरोपीय अदालत से जोर का झटका, नेटवर्क से पूरी तरह हटाने होंगे

 यूरोपीय यूनियन की सर्वोच्च अदालत ने बुधवार को फेसबुक को जोरदार झटका दिया। कोर्ट ने फेसबुक समेत सभी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म से घृणा फैलाने वाले भाषणों और अन्य विवादास्पद सामग्री को हटाने का आदेश दिया है। यह आदेश पूरी दुनिया के Social Media Content को लेकर दिया गया है।

Court का यह फैसला यूरोपीय यूनियन की Social Media कंपनियों की जीत के तौर पर देखा जा रहा है। ये कंपनियां अमेरिकी दिग्गज फेसबुक पर भी यूरोपीय यूनियन के नियम लागू कराना चाहती थीं। फेसबुक पर यूरोपीय मानक लागू न होने से वह प्रतिद्वंद्वी यूरोपीय कंपनियों से आगे है।

इवा ग्लाविचनिग ने की थी अभद्र टिप्पणी हटाने की मांग 

यूरोपीय कोर्ट ऑफ जस्टिस ने अपने आदेश में कहा है कि फेसबुक भी अपने प्लेटफॉर्म से घृणा फैलाने वाला कंटेंट हटाए और ऐसे कार्य में लिप्त लोगों के Account बंद करे। ताजा आदेश ऑस्ट्रिया की कोर्ट में चले मूल मामले से यहां आया है। ऑस्ट्रिया में ग्रींस पार्टी की नेता इवा ग्लाविचनिग पीसचेक ने फेसबुक पर अपने खिलाफ की गई अभद्र टिप्पणियों को हटाने की मांग वहां की अदालत से की थी। ये अभद्र टिप्पणियां पूरी दुनिया में देखी और पढ़ी जा रही थीं। इस टिप्पणी में इवा को भ्रष्ट महिला बताया गया था।

loading...

Leave a Comment