अवैध शस्त्र फैक्ट्री का पुलिस ने किया भांडाफोड़

 उत्तर प्रदेश के मऊ जिले के दक्षिणटोला थाना क्षेत्र और शहर कोतवाली क्षेत्र में बुधवार को असलहे की अवैध फैक्टरी के पकड़े जाने के मामले में पुलिस तीन महिलाओं सहित नौ लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। जबकि एक फरार है। इनमें चार आरोपी बुधवार को ही पकड़े गए थे।
पुलिस अधीक्षक सुशील घुले ने गुरुवार को बताया कि बिहार और गोरखपुर एसटीएफ के साथ जनपद पुलिस ने शहर के दक्षिणटोला थाना क्षेत्र के प्यारेपुरा और शहर कोतवाली के रघुनाथपुरा में बुधवार को छापा मारकर अवैध रूप से असलहे बनाने के ठिकानों का पर्दाफाश किया था। पुलिस ने दोनों स्थानों से अर्द्ध निर्मित, निर्मित असलहे और उपकरण बरामद किए थे। इस मामले में चार लोगों को तुरंत गिरफ्तार किया गया था, जबकि अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही थी।
इस प्रकरण में तीन महिलाओं सहित कुल नौ लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। एक मास्टर माइंड अभी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ सका है। एसपी ने बताया कि गिरफ्तार तबरेज और तनवीर सगे भाई हैं, जो बिहार के मुंगेर निवासी हैं। दोनों रघुनाथपुरा और प्यारेपुरा में मकान बनाकर परिवार के साथ रहते हैं।
तबरेज अभी फरार है। एसपी ने बताया कि तनवीर और तबरेज मूल रुप से मुंगेर जिले के कासिमबाजार थाने के हजरतगंज गांव के निवासी हैं। दोनों ने दो सगी बहनों से शादी की है और मऊ में रहने लगे। बताया कि दोनों  कोलकाता से कच्चा माल लाते थे। असलहे बनाकर मुंगेर निवासी सोनू को सप्लाई करते थे।

Leave a Comment