कानपुर के शिवराजपुर में मंडरा रहा टिड्डी दल

मध्य प्रदेश सीमा से बुंदेलखंड क्षेत्र में मंडरा रहा टिड्डी दल कानपुर देहात से होता हुआ कानपुर तक आ पहुंचा है। कानपुर के मंधना, टिकरा और चौबेपुर में अलर्ट कर दिया गया है, वहीं शिवराजपुर में होने की सूचना पर टीम पहुंच गई है। डीएम डॉ. ब्रह्मदेव तिवारी ने कृषि विभाग की टीम को भेजकर बचाव कार्य शुरू करा दिया है। हालांकि अभी टिड्डी दल आसमान में मंडरा रहा है, किसी गांव में बैठने की सूचना नहीं है। ग्रामीणों ने ढोल-थाली बजाकर उन्हें भगाने का प्रयास शुरू कर दिया है, कृषि विभाग की टीम ने भी दमकल जवानों की मदद से कीटनाशक का छिड़काव शुरू करा दिया है।

कानपुर देहात जनपद में टिड्डियों का दल पहुंच गया। जालौन की सीमा से टिड्डियों ने शनिवार देरशाम प्रवेश किया है और अकबरपुर क्षेत्र के पास रात में टिड्डी दल उतर गया। कमीरपुर बिगाही गांव में सुबह किसान खेतों की ओर गए तो पेड़ों और फसलों पर टिड्डियों को देखकर थाली, डमरू व ढोल बजाकर भगाने में जुट गए। सूचना पर कृषि विभाग, प्रशासन व फायर ब्रिगेड की टीमें बचाव के लिए रात से जुटी रहीं।

आसपास के गांवों के किसानों ने भी अपने खेतों की निगरानी शुरू कर दी है। टिड्डी दल ने चरी, धान और आम के बाग पर हमला बोला है। उप निदेशक कृषि विनोद यादव ने बताया कि टिड्डियों को मारने के लिए कीटनाशक का छिड़काव कराया जा रहा है। तेज ध्वनि से भी टिड्डी दल को भगाने का प्रयास किया जा रहा है। विभाग पूरी तरह से निगरानी कर रहा है। किसानों से अपील है कि कहीं भी टिड्डी दल दिखे तो विभाग को जरूर सूचना दें।

वहीं कानपुर सीमावर्ती गांव बाघपुर में टिड्डियों का छोटा दल पहुंचने से गांवों को अलर्ट कर दिया गया है। हवा का रुख देखते हुए टिड्डी दल टिकरा, मंधना या चौबेपुर की और जाने की आशंका है। दल की लंबाई 700 से 800 मीटर बताई जा रही है। किसान खेतों पर पहुंचकर निगरानी कर रहे हैं।

Leave a Comment