कानपुर में खुले लव जिहाद के कई मामले, अब एसआइटी करेगी जांच

शहर में लव जिहाद के मामलों की जांच विशेष जांच टीम (एसआइटी) से कराई जाएगी। सोमवार को तीन पीडि़त परिवारों ने आइजी मोहित अग्रवाल के सामने अपना दर्द बयां किया। आइजी ने कहा, पूरे प्रकरण की जांच के लिए राजपत्रित अधिकारी के नेतृत्व में एसआइटी गठित होगी।

आइजी दफ्तर में बर्रा निवासी शालिनी की मां सतरूपा और भाई अभिषेक ने बताया कि आरोपित ने बेटी का ब्रेनवॉश कर धर्मांतरण कराया और 10 लाख रुपये घर से मंगाकर अपहरण किया। पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की। बेटी को दबाव में लेकर वीडियो वायरल किए जा रहे हैं। पनकी निवासी युवती के पिता ने बताया कि दो माह पूर्व उन्हें पता लगा कि बेटी को जूही लाल कॉलोनी निवासी समीर बहका कर धर्मांतरण कराने व निकाह करने की कोशिश कर रहा है। बेटी उसके बहकावे में घर से जेवर और नकदी ले जाती, उससे पहले ही उन्हें पता लग गया।

Leave a Comment