उत्तर प्रदेश

गांव मे ही छुपा बदांयू में महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म का आरोपित सत्य नारायण गिरफ्तार

Above Article

उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या की वारदात में मुख्य आरोपित सत्य नारायण को पुलिस ने गुरुवार रात गिरफ्तार कर लिया है। सोमवार को वह धर्म स्थल से फरार हो गया था।

उसकी तलाश में पुलिस टीमें उत्तराखंड, बरेली, चंदौसी, कासगंज में दबिश देती रही थीं, जबकि वह उसी गांव में छिपा रहा।

गुरुवार रात पुलिस को पता चला कि वह किसी चेले के घर में छिपा है। रात करीब 11 बजे दबिश देकर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसे शरण देने वाले युवक को भी पुलिस थाने लेकर आई है।

महिला से सामूहिक दुष्कर्म व हत्या के मामले में लापरवाही पाए जाने पर तत्कालीन एसओ राघवेंद्र प्रताप सिंह व हल्का दारोगा अमरजीत पर गुरुवार देर रात मुकदमा दर्ज करा दिया गया। दोनों पुलिसकर्मी सूचना के बावजूद रविवार को मौके पर नहीं पहुंचे थे।

शासन से सख्ती होने के बाद गुरुवार देर रात एसएसपी के निर्देश पर दोनों के खिलाफ धारा 166 ए (महिला अपराध की सूचना के बावजूद तत्परता न बरतना, सही धाराओं में तुरंत रिपोर्ट दर्ज नहीं करना।) के तहत मुकदमा दर्ज किया गया।

एडीजी अविनाश चंद्र ने बताया कि जांच के लिए जोन स्तर पर भी चार सदस्यीय टीम गठित कर दी गई है। तत्कालीन एसओ और एक दारोगा पर मुकदमा दर्ज कराया गया है। दोनों ने सूचना के बावजूद लापरवाही बरती।

रविवार को उघैती क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली आंगनबाड़ी सहायिका धर्मस्थल में पूजा करने गई थीं। वहीं महंत सत्यनारायण, उसके साथी वेदराम व जसपाल ने दुष्कर्म किया।

महिला के निजी अंगों को लोहे की राड से चोट पहुंचाई, अधिक रक्तस्राव होने से उनकी मौत हो गई थी। मंगलवार को पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इसकी पुष्टि होने के बाद मुकदमा दर्ज हुआ और बुधवार को वेदराम व जसपाल को गिरफ्तार कर लिया गया।

रविवार को उघैती क्षेत्र में रहने वाली आंगनबाड़ी सहायिका पूजा करने गई थीं। वहीं महंत सत्यनारायण, उसके साथी वेदराम व जसपाल ने दुष्कर्म किया। महिला के निजी अंगों को लोहे की राड से चोट पहुंचाई, अधिक रक्तस्राव होने से उनकी मौत हो गई थी।

मंगलवार को पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इसकी पुष्टि होने के बाद मुकदमा दर्ज हुआ और बुधवार को वेदराम व जसपाल को गिरफ्तार कर लिया गया। दोपहर को अलीगढ़ के इगलास में सत्य नारायण नाम के एक शख्स को पकड़ा गया।

जांच में पता चला कि वह गुजरात का रहने वाला है, जिसके बाद छोड़ दिया गया। गुरुवार रात को सत्य नारायण को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button