अर्थ जगत

चांदी के भाव मे आई तेजी, जाने सोने व चांदी के दाम

Above Article

बजट से पहले पिछले छह सत्रों में शेयर बाजार को काफी झटका लग चुका है। सेंसेक्स 21 जनवरी के अपने सर्वाकालिक ऊंचाई से करीब 4000 अंक नीचे आ चुका है। वहीं अगर सोने की बात करें तो इसका भाव जनवरी महीने में 809 रुपये प्रति 10 तक गिर चुका है।

31 दिसंबर 2020 को सर्राफा बाजार में सोने का भाव 50202 रुपये था। वहीं चांदी इस अवधि में 2343 रुपये प्रति किलो महंगी हुई है। 31 दिसंबर 2020 को चांदी 67383 रुपये प्रति किलो के रेट से बिकी थी।  अभी भी सोना अपने ऑल टाइम हाई से 6861 रुपये सस्ता है और चांदी पिछले साल के अपने उच्च स्तर से 6282 रुपये प्रति किलो तक सस्ती है।

जनवरी के आखिरी हफ्ते में सर्राफा बजारों में सोने के हाजिर भाव में तो केवल 253 रुपये प्रति 10 ग्राम की बढ़ोतरी हुई पर चांदी के हाजिर भाव में बड़ा उछाल देखने को मिला। बीते हफ्ते चांदी 3934 रुपये प्रति किलो महंगी हो गई। 22 जनवरी को चांदी 65792 रुपये प्रति किलो पर बंद हुई थी, जबकि 29 जनवरी को यह 69729 रुपये पर पहुंच गई।

कोरोना वायरस के प्रभाव को कम करने के लिए दुनिया भर के केंद्रीय बैंकों और सरकारों द्वारा राजकोषीय उपायों ने पिछले साल सोने की कीमतों में 25 फीसद से अधिक की वृद्धि की थी, जबकि चांदी लगभग 50 फीसद बढ़ गई थी।

सोने को महंगाई और मुद्रा में आई गिरावट से सुरक्षा देने वाला माना जाता है। देशभर के सर्राफा बाजारों में सात अगस्त 2020 को गोल्ड का हाजिर भाव 56254 पर खुला। यह ऑल टाइम हाई था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button