छह राज्यों के छह शहरों में लाइट हाउस प्रोजेक्ट की पीएम मोदी रखी आधारशिला

नए साल 2021 पर PM Modi ने ग्लोबल हाउसिंग टेक्नोलॉजी चैलेंज इंडिया के तहत UP और MP समेत छह राज्यों के छह शहरों में लाइट हाउस प्रोजेक्ट की आधारशिला रखी।

इस परियोजना के तहत केंद्र सरकार लखनऊ, इंदौर, चेन्नई, रांची, अगरतला और राजकोट में हजार-हजार से अधिक नए मकानों का निर्माण करेगी।

PM Modi ने इस दौरान कहा कि ये छह प्रोजेक्ट्स वाकई लाइट हाउस यानी प्रकाश स्तंभ की तरह हैं। ये देश में हाउसिंग कंस्ट्रक्शन को नई दिशा दिखाएंगे।

देश के हर क्षेत्र से राज्यों का इस अभियान में जुड़ना कॉपरेटिव फेडरलिज्म की हमारी भावना को और मजबूत कर रहा है।

हर जगह एक साल में 1,000 घर बनाए जाएंगे, इसका मतलब प्रतिदिन 2.5-3 ​घर बनाने का औसत आएगा। अगली 26 जनवरी से पहले इस काम में सफलता पाने का इरादा है।

PM Modi ने यह भी कहा कि देश में हीआधुनिक हाउसिंग तकनीक से जुड़ी रिसर्च और स्टार्टअप्स को प्रमोट करने के लिए आशा इंडिया प्रोग्राम चलाया जा रहा है।

इसके माध्यम से भारत में ही 21वीं सदी के घरों के निर्माण की नई और सस्ती तकनीक विकसित की जाएगी।

घर बनाने से जुड़े लोगों को नई तकनीक से जुड़ी स्किल अपग्रेड करने के​ लिए सर्टिफिकेट कोर्स भी शुरू किया जा रहा है ताकि देशवासियों को घर निर्माण में दुनिया की सबसे अच्छी तकनीक और मटेरियल मिल सके।

PM Modi ने इस दौरान कहा कि लोगों के पास अब रेरा जैसे कानून की शक्ति है। इसने लोगों में ये भरोसा लौटाया है कि जिस प्रोजेक्ट में वो पैसा लगा रहे हैं, वो पूरा होगा, उनका घर अब फंसेगा नहीं।

एक समय, आवास योजना केंद्रीय सरकार की प्राथमिकता नहीं थी। सरकार ने निर्माण के विवरण और गुणवत्ता की परवाह नहीं की। अगर बदलाव नहीं किए जाते, तो यह बहुत मुश्किल होता। आज, देश ने एक अलग दृष्टिकोण चुना है।

Leave a Comment