जानिए Haryana में किस किस चीज पर लगा बैन, जाने पूरी खबर

Haryana में Corona Virus COVId-19 के खिलाफ जंग में मनोहरलाल सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। Haryana सरकार ने राज्‍य में पान, पान मसाला, गुटखा और च्‍यूइंगम की बिक्री व खाने पर रोक लगा दिया है। राज्‍य सरकार ने इन पर 1 साल के लिए बैन लगाया है। सरकार ने इस बैन को सख्‍ती से लागू करने का आदेश दिया है।

Corona Virus को फैलने से रोकने के लिए बुधवार को च्‍यूइंगम, गुटका, पान मसाला, सुगंधित तंबाकू सहित अन्य तंबाकू उत्पाद खाने और बेचने वालों पर सरकार सख्त हो गई। खाद्य एवं औषध प्रशासन विभाग ने सभी DC-SP, सिविल सर्जन और खाद्य सुरक्षा अधिकारियों को पत्र लिख कर याद दिलाया है कि प्रदेश में तंबाकू उत्पादों पर प्रतिबंध है। इसके बावजूद इनकी बिक्री और सेवन थमने का नाम नहीं ले रहा।

च्‍यूइंगम, गुटखा और पान मसाला सहित अन्य तंबाकू उत्पाद खाकर यहां-वहां थूक रहे लोगों के कोरोना वायरस के वाहक बनने का खतरा है। इसलिए प्रदेश सरकार ने तुरंत प्रभाव से पान, च्‍यूइंगम और तंबाकू उत्पादों के स्टाक, बिक्री और खाने पर प्रतिबंध सुनिश्चित करने का आदेश दिया है। इसका उल्लंघन दंडनीय अपराध होगा। किसी प्रतिष्ठान में पान, च्‍यूइंगम व तंबाकू उत्पाद खाने पर तत्काल License निरस्त कर दिया जाएगा।

प्रदेश में गुटखा निर्माण, वितरण व बिक्री वर्ष 2013 से प्रतिबंधित है। इसके बावजूद बाजारों, सड़कों व दफ्तरों के कोनों-कोनों में पान-मसाला खाकर थूकने से गंदगी व संक्रमण फैलता है।  इसके चलते यह प्रतिबंध लगाया गया है।

च्‍यूइंगम, गुटखा और पान मसाला खाकर थूकना Corona Virus फैलने का बड़ा कारण है। इन पदार्थों को खाकरने वालों की कमी नहीं। तंबाकू उत्पादों को चबाने के बाद सार्वजनिक स्थानों पर इसे थूक देना आम तौर पर देखा जा सकता है। इस पर रोकथाम के लिए पहले भी लोगों से आग्रह किया जाता रहा है कि वह इसका सेवन न करें। इससे किसी परिसर व सड़क की सुंदरता तो प्रभावित होती ही है, प्रदूषण भी फैलता है। अब मामला गंभीर है, इसलिए इस पर सख्ती से प्रतिबंध लगाना जरूरी है।

Leave a Comment