अंतराष्ट्रीय

जाने कहा बर्ड फ्लू के वायरस से इंसान के संक्रमित होने का पहला मामला आया सामने

Above Article

रूस में बर्ड फ्लू के वायरस से इंसान के संक्रमित होने का पहला मामला सामने आया है। लोगों के स्वास्थ्य पर नजर रखने वाली संस्था Rospotrebnadzor की प्रमुख Anna Popova ने बताया कि एवियन एन्फ्लूएंजा ए वायरस के H5N8 स्ट्रेन से एक पॉल्ट्री में काम करने वाले सात लोगों को संक्रमित पाया गया है। इसकी जानकारी विश्व स्वास्थ्य संगठन को दे दी गई है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अभी इस घटना पर अपनी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। रूस के साथ ही यूरोप, चीन, उत्तरी अफ्रीका और पश्चिमी एशिया में यह वायरस (H5N8 strain) अभी तक सिर्फ पॉल्ट्री में पाया गया था। यह पहली बार है जब इस वायरस को इंसान में पाया गया है।

पोपोवा ने बताया कि रूस के दक्षिण में एक पॉल्ट्री फार्म के सात कर्मचारियों को संक्रमित होने के बाद आइसोलेट कर दिया है। इस इलाके में पिछले साल दिसंबर में बर्ड फ्लू का कहर देखा गया था। संक्रमितों के संपर्क में आने वाले लोगों की पहचान की जा रही है। उन्होंने कहा कि सभी सातों लोग ठीक महसूस कर रहे हैं और स्थिति नियंत्रण में हैं।

Rospotrebnadzor की प्रमुख Anna Popova ने बताया कि अभी तक इस वायरस के इंसान से इंसान के बीच संक्रमण के लक्षण सामने नहीं आए हैं। संक्रमण के शिकार अधिकांश लोग पोल्ट्री फार्म के साथ सीधे जुड़े हुए पाए गए हैं।

अभी तक ठीक से पका हुए चिकन को सुरक्षित माना जाता रहा है। बर्ड फ्लू के वायरस के प्रकोप फैलने से रोकने के लिए अक्सर पोल्ट्री फार्मों में पल रहे पक्षियों को मार दिया जाता है। देखा गया है कि बर्ड फ्लू के अधिकांश मामले जंगली पक्षियों के प्रवास से फैलते हैं।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close