नई पहल स्वयं मरीज बन कर पहुचे उर्सला हास्पिटल

आज कानपुर के उर्सला अस्पताल डी एम पहुचे l शहर में स्वास्थ्य विभाग स्थानों की पड़ताल करने के लिए अधिकारियों द्वारा लगातार अस्पतालों का औचक निरीक्षण किया जा रहा है। जिसको देखते हुए मंगलवार सुबह उर्सला अस्पताल में स्वास्थ्य विभाग की व्यवस्थाओं की पड़ताल करने के लिए डीएम विशाख जी अय्यर आम मरीज की तरह पहुंचे। डीएम ने ओपीडी में सुबह आठ बजे पहुंचकर रजिस्ट्रेशन भी कराया और चिकित्सकीय परामर्श के लिए डाक्टर के कमरे के बाहर बैठ गए। काफी समय के बाद जब कोई डॉक्टर नहीं आया तो डीएम ने अस्पताल में कार्य कर रहे कर्मचारी से डॉक्टर के आने का समय पूछा तो ,जिस पर जवाब मिला की चुपचाप केविन के बाहर बैठने को कहा

एक आम मरीज की तरह डीएम ने ओपीडी के विभिन्न विभागों में निरीक्षण किया और मरीजों के बैठने की व्यवस्था तथा रजिस्ट्रेशन काउंटर पर सुविधाओं का मुआयना किया। जिसमें उन्होंने पाया कि अस्पताल परिसर में मरीजों के बैठने के लिए कोई भी उचित स्थान नहीं है जबकि चार काउंटरों में सिर्फ दो ही संचालित किए जा रहे हैं साफ सफाई भी परिसर में संतोषजनक नहीं पाई गई। लगभग 45 मिनट तक अस्पताल परिसर में निरीक्षण करने के बाद डीएम ने साफ सफाई सुचारू व्यवस्था है और डाक्टरों के आने का समय नोट किया। उर्सला अस्पताल में शहर के साथ आसपास के कई जिलों के मरीज बेहतर उपचार के लिए पहुंचते हैं। मंगलवार को डीएम ने अकेले ही पहुंचकर औचक निरीक्षण कर हकीकत जानी। ओपीडी के बाहर इंतजार करते हुए डीएम ने डाक्टरों के आने का समय और उनके उपचार का तरीका भी परखा। एक आम मरीज की तरह पहुंचे डीएम की भनक अस्पताल कर्मचारियों तक को ना हो सकी। परीक्षा के बाद जिला चिकित्सालय में मरीजों को हो रही परेशानियों को देखते हुए डीएम ने निदेशक कि समय पर उपस्थित ना होने पर स्पष्टीकरण उपलब्ध किए जाने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने अन्य व्यवस्थाओं को भी दुरुस्त कर डाक्टरों को समय पर आने के लिए निर्देशित किया।

Leave a Comment