नैनीताल आने से पहले जान ले ये बात, यह व्यवस्था हुई अनिवार्य

पर्यटन नगरी नैनीताल में गुरुवार 24 दिसंबर से पर्यटकों की बिना Covid  जांच के  बेरोकटोक एंट्री बंद हो जाएगी। नैनीताल आने वाले पर्यटकों को हल्द्वानी रोड में रूसी बाईपास, कालाढूंगी रोड में नारायण नगर या बारापत्थर, भवाली रोड में पाइंस के समीप रैपिड कोरोना टेस्ट कराना ही होगा।

जिला प्रशासन ने शहर के एंट्री प्वाइंटों पर अस्थाई कैंप तैयार कर लिये हैं। इन कैंपों में पुलिस बूथ के साथ कोरोना जांच बूथ भी बनाया गया है। इन बूथों पर कोविड जांच के बाद ही शहर में प्रवेश मिलेगा।

पर्यटकों को दिक्कतें ना हो, इसके लिये टैक्सी बूथ में ठहरने की व्यवस्था के साथ फूड स्टॉल भी लगाया जा रहा है। रुसी बाईपास में स्थाई सुलभ शौचालय और अन्य स्थानों पर मोबाइल टायलेट स्थापित किए गए हैं। जिला प्रशासन, पुलिस, पालिका व पर्यटन विभाग की ओर से किए गए इंतजाम दो जनवरी तक प्रभावी रहेंगे।

पिछले दिनों High Court ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मसूरी और नैनीताल के संबंध में सरकार से पूछा था किए कोविड जांच के लिए क्या व्यवस्थाएं की हैं। जिसके बाद जिला प्रशासन द्वारा व्यापक तैयारियां की गई हैं।

बुधवार को जिला पर्यटन अधिकारी अरविंद गौड़ तथा बीडी पांडेय अस्पताल के पीएमएस डा. केएस धामी के नेतृत्व में अलग अलग टीम ने रूसी बाइपास, पाइंस, नारायण नगर का दौरा कर इतंजाम का जायजा लिया। पीएमएस ने बताया कि हर पर्यटक का रैपिड टेस्ट और स्क्रीनिंग होगी।

शरीर का तापमान अधिक होने पर पर्यटक का आरटीपीसीआर टेस्ट होगा। बीडी पांडे अस्पताल नैनीताल के पीएमएस डा. केएस धामी ने बताया कि नारायण नगर, रूसी बाइपास व पाइंस में मेडिकल टीम के लिए फाइबर के दो-दो रूम तैयार हैं।

एंबुलेंस भी तैनात रहेगी। मेडिकल टीम में एक चिकित्सक व एक स्टाफ होगा। जो हर पर्यटक की स्क्रीनिंग करेगा और रैपिड टेस्ट होंगे। मेडिकल संबंधित इंतजाम पूरे हैं।

रूसी बाइपास, नारायण नगर, सूखाताल, मेट्रोपोल, फ्लैट्स, तल्लीताल, बीडी पाण्डे अस्पताल के समीप पार्किंग होगी|

Leave a Comment