ब्रह्मलीन महंथ स्वामी आनंद गिरी की 12वीं पुण्यतिथि मनायी गयी

बलिया रसड़ा के सिद्ध संत श्रीनाथ बाबा मठ के ब्रह्मलीन महंथ स्वामी आनंद गिरी जी महाराज के 12वीं पुण्यतिथि गुरुवार को बैजलपुर गांव स्थित शिव मंदिर पर श्रद्धांजलि व भव्य भंडारे के साथ श्रद्धा पूर्वक मनायी गयी।

इस अवसर पर कार्यक्रम के संयोजक ब्रह्मलीन महंथ आनंद गिरी जी के शिष्य आचार्य महंथ स्वामी नित्यानंद गिरी जी महाराज ने अपने गुरु के चित्र पर माल्यार्पण व पूजा आराधना के बाद अपने संदेश में कहा कि गुरु हमेशा समाज के लोंगो में भलाई व विकट परिस्थितियों में नयी राह पाने के लिए सद ऊर्जा का संचार करता रहता है। संतो और गुरु के चरणों मे स्वर्ग,मोक्ष और सर्वगुणों का वास होता है। जिनका सानिध्य पाकर ही मानव अपने जीवन को धन्य व सार्थक बना सकता है।

ब्रह्मलीन महंथ जी भी ऐसे ही गुरु परंपरा के धनी थे। उन्होंने गुरु श्री की समाधि बनाने के संकल्प को शिष्यों के सहयोग से शिघ्र पूर्ण करने और उनके अधूरे सपनों को पूरा करने की बात कही। इस अवसर पर श्रद्धांजलि सभा व भंडारे में गुरुजी के शिष्य श्यामबली सिंह, पिंटू सिंह पोस्टमास्टर,जगदीश सिंह, सुरेश सिंह, तेजनारायण सिंह, पारस सिंह, मुन्ना गुप्ता,उदयनारायण सिंह, रामाशीष, रामधारी यादव,सत्येंद्र सिंह, टुनटुन सिंह, गुड्डू सिंह, नरेंद्र लाल श्रीवास्तव, राजेश सिंह,हरेराम सिंह, रामानुज सिंह शिव जी सिंह, अनिल तिवारी, श्यामबली के साथ लौहाडीह,दतौली, सरदासपुर,अठीला,मुंडेरा,नीबू,रसड़ा, सहतवार आदि स्थानों से आये शिष्यों व श्रीनाथ भक्तों ने भाग लिया। अंत में प्रभाकर सिंह उर्फ पिंटू सिंह ने सभी का आभार व्यक्त किया।

रिपोर्टर जितेन्द्र यादव

Leave a Comment