मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने तूफानी दौरे में रविवार को की कोविड-19 पर समीक्षा बैठक

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ते प्रसार पर अंकुश लगाने के प्रयास में लगे सीएम योगी आदित्यनाथ आपदा में भी अवसर तलाश रहे हैं। प्रदेश में एक करोड़ 25 लाख प्रवासी कामगारों के लिए रोजगार की व्यवस्था करने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ अब जिलों का दौरा कर रहे हैं। बाढ़ आने की आशंका के कारण इसके बचाव का इंतजाम अब उनकी प्राथमिकता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने तूफानी दौरे में रविवार को गोंडा में कोविड-19 पर समीक्षा बैठक की। बलरामपुर से गोंडा पुलिस लाइन में हेलिकॉप्टर से लैंड करने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ जिला मुख्यालय पहुंचे। इस दौरान उन्होंने पुलिस लाइंस के सम्मेलन कक्ष में ही कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के बारे में जिलाधिकारी तथा जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक की। सीएम योगी आदित्यनाथ की की बैठक में सांसद, विधायक व अफसर मौजूद थे। बैठक में कोविड के साथ ही जिले में विकास कार्य तथा कानून-व्यवस्था की समीक्षा की गई। बैठक के बाद सीएम वह जिला अस्पताल का निरीक्षण करने भी गए। सीएम के दौरे को लेकर जिला अस्पताल में डीएम नितिन बंसल व सीएमओ डॉ मधु गैरोला ने सारे इंतजाम परखे थे।

जिला अस्पताल के नवनिर्मित भवन को कोविड हॉस्पिटल बनाया जा रहा है। इसे टाटा ट्रस्ट एवं बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन फाउंडेशन द्वारा बनाया जा रहा है। 100 बेड का कोविड हॉस्पिटल बनने के बाद कोरोना के मरीजों को इलाज में काफी सुविधा मिल सकेगी। यहीं पर टेस्टिंग लैब का भी निर्माण किया जा रहा है। इस लैब के बन जाने से कोरोना के सैंपल की जांच हो सकेगी। रविवार को आ रहे मुख्यमंत्री जिला अस्पताल का निरीक्षण करेंगे। अपर निदेशक स्वास्थ्य डॉ. अशोक कुमार ने बताया कि मुख्यमंत्री के भ्रमण के मद्देनजर तैयारी की जा रही है।

इससे पहले बलरामपुर में खराब मौसम के कारण मुख्यमंत्री का गोंडा सड़क मार्ग से आने का भी कार्यक्रम बन गया था। इसके कारण ही वहां पर बलरामपुर मार्ग पर पडऩे वाले थानों को अलर्ट किया गया था। एएसपी महेंद्र कुमार ने बताया कि सीएम तुलसीपुर से बलरामपुर के लिए कार से निकले इसके बाद ही मौसम साफ होने पर वह हेलिकॉप्टर से गोंडा पहुंचे।

बलरामपुर में रविवार सुबह शक्तिपीठ देवीपाटन मंदिर में देवी मां पाटेश्वरी की आराधना के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नाथ गोंडा के लिए रवाना हो गए। सुबह बारिश के बीच सीएम योगी आदित्यनाथ ने मां पाटेश्वरी का दर्शन पूजन के साथ गर्भगृह की परिक्रमा भी की। मौसम खराब होने के कारण पहले उनके सड़क मार्ग से रिजर्व पुलिस लाइन पहुंचे। इसके बाद वहां से हेलिकॉप्टर से ही गोंडा रवाना हुए।

गोंडा से सड़क मार्ग से जाएंगे अयोध्या

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यक्रम में आंशिक परिवर्तन किया गया है। मौसम खराब होने के कारण वह कार के काफिला के साथ गोंडा से अयोध्या आएंगे। उनके एक बजे तक अयोध्या पहुंचने की उम्मीद हैं। यहां पर कई कार्यक्रम के साथ वह रामलला तथा हनुमानगढ़ी में दर्शन करेंगे। इसके बाद राम मंदिर निर्माण की तैयारियों का लाजया लेने के साथ ही भजन संध्या स्थल का निरीक्षण करेंगे। इसके बाद अयोध्या सॢकट हाउस में वह जिले में कोविड-19 तथा विकास कार्यों की समीक्षा करेंगे। इस दौरान उनके साथ अधिकारी भी रहेंगे। उनका आज अयोध्या में भाजपा के नेता तथा कार्यकर्ताओं के साथ भेंट का भी कार्यक्रम है। गोंडा से अयोध्या पहुंचने में विलंब के कारण उनके कुछ कार्यक्रम हो निरस्त सकते हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को लखनऊ में टीम-11 के साथ बैठक में कोरोना वायरस से बचाव की समीक्षा करने के बाद बाराबंकी व गोंडा में बाढ़ राहत के इंतजाम परखा। इसके बाद वह बलरामपुर पहुंचे। जहां पर उन्होंने समीक्षा बैठक की।

अयोध्या से लखनऊ रवाना होंगे

गोंडा में समीक्षा के बाद बाद सीएम योगी आदित्यनाथ अयोध्या पहुचेंगे। मुख्यमंत्री एक घंटा से भी अधिक समय तक अयोध्या में रहेंगे। इस दौरान राम जन्मभूमि परिसर में पौधरोपण करेंगे। इसके साथ ही राम मंदिर निर्माण की तैयारियों को लेकर श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्यों के साथ वार्ता करने के बाद रामलला व हनुमान गढ़ी का दर्शन करेंगे। उनका अयोध्या में नॉन कोविड हॉस्पिटल व नवनिॢमत भजन स्थल का निरीक्षण करने के साथ सॢकट हाउस में अधिकारियों के साथ बैठक करने का भी कार्यक्रम है। इस बैठक के बाद वह भाजपा पदाधिकारियों के साथ भी वार्ता करेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ का दो बजे के बाद अयोध्या से लखनऊ के लिए रवाना होने का कार्यक्रम है।

Leave a Comment