उत्तर प्रदेश

राष्ट्रीय गोकुल मिशन के अन्तर्गत गांव को किया जाएगा चयनित

Above Article

 

भारत सरकार के राष्ट्रव्यापी कृत्रिम गर्भाधान कार्यक्रम में राष्ट्रीय गोकुल मिशन के अन्तर्गत गांव को चयनित किया जाएगा |तथा बस्ती जिले के 500 गाॅव को चयनित किया जायेंगा इसका उद्देश्य कृत्रिम गर्भाधान आच्छादन में वृद्धि करना है|

इसमें गोवंशीय एवं महिषवंशीय पशुओ का कृत्रिम गर्भाधान कराके पशुपालन को बढावा दिया जायेंगा|और  पूरे जिले में ऐसे 500 गाॅव चयनित किए जायेंगे, जिसमें कम से कम 100 प्रजनन योग्य पशुु अवश्य हो|

इसमें दुग्ध सहकारी समिति सक्रिय गाॅव को शामिल किया जायेंगा|यह परियोजना 01 अगस्त 2020 से 31 मई 2021 तक संचालित की जायेंगी|

इस परियोजना के तहत माझा क्षेत्र के गाॅव में क्लस्टर तैयार किया जायेंगा|पशुपालन को बढावा देने के लिए भारत सरकार द्वारा यह योजना लागू की गयी है|

इसमें देशी नस्ल के अधिक से अधिक पशुओ को शामिल किया जायेंगा|और गाॅव के चयन के लिए पशुपालन, राजस्व तथा दुग्ध विकास विभाग को निर्देशित किया गया है|जिलाधिकारी वे भारत सरकार के गाईडलाईन के अनुसार गाॅव का चयन करेंगे|

कोरोना वायरस के कारण गाॅव को लौटे प्रवासी कामगारों को इस योजना के तहत अधिक से अधिक लाभ पॅहुचाया जायेंगा|डेयरी के माध्यम से उनको काम भी मिलेगा तथा उनकी आमदनी भी बढेगी|

रिपोर्टर बीपी पाण्डेय

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button