नई दिल्ली

लोनी बॉर्डर पर किसानों ने दिल्ली पुलिस द्वारा लगाए गए बैरिकेड्स तोड़े, पढ़े खास खबर

Above Article

Delhi Police से इजाजत मिलने के बाद आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली में ‘ट्रैक्टर परेड’ निकालेंगे। इसके लिए पूरी तैयारी लगभग हो चुकी है।

सिंघु, टिकरी और लोनी बॉर्डर पर किसानों ने दिल्ली पुलिस द्वारा लगाए गए बैरिकेड्स तोड़ दिए हैं और दिल्ली में गणतंत्र दिवस समारोह से पहले घुसने की कोशिश कर रहे हैँ।

इससे पहले किसानों ने परेड के लिए ट्रैक्टरों को साफ कर चमकाया है। तिरेंगे और बैनर लगाए गए हैं। गणतंत्र दिवस समारोह और किसानों की प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड के मद्देनजर राजपथ और राष्ट्रीय राजधानी की कई सीमाओं पर हजारों सशस्त्र सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया है।

तीन विवादित कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संघों ने कहा कि उनकी परेड मध्य दिल्ली में प्रवेश नहीं करेगी और यह गणतंत्र दिवस पर होने वाली आधिकारिक परेड के समापन के बाद ही शुरू होगी। संघों ने दावा किया है कि उनकी परेड में करीब दो लाख ट्रैक्टरों के हिस्सा लेने की उम्मीद है और यह सिंघू बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर तथा गाज़ीपुर से रवाना होगी।

सिंघु बॉर्डर और धंसा बॉर्डर पर किसान संगठनों ने ट्रैक्टर मार्च शुरू कर दी है। बता दें कि दो संगठनों ने सुबह ही ट्रैक्टर मार्च शुरू करने की घोषणा की थी, ये उसी के सदस्य हैं।

बागपत शामली की तरफ से आ रहे किसानों के ट्रैक्टरों को लोनी पुलिस ने लोनी तिराहे पर रोकने का प्रयास किया। अधिकारी ट्रैक्टरों को टीला मोड होते हुए यूपी गेट भेजने का प्रयास कर रहे थे लेकिन किसान सीधा बॉर्डर पर जाने की जिद पर अड़े थे।

करीब 2 घण्टे की जद्दोजहद के बाद किसानों को सीधा दिल्ली बॉर्डर जाने दिया गया।दिल्ली बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस ने बैरिकेड लगा रखे थे जिन को तोड़कर किसान दिल्ली सीमा में प्रवेश कर गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button