1जनवरी से केरल, कर्नाटक और असम के स्‍कूलों को दोबारा से खुले

नए साल 2021 के पहले दिन यानि शुक्रवार, 1 जनवरी से केरल, कर्नाटक और असम के स्‍कूलों को दोबारा से खोला गया। सरकार द्वारा जारी किए गए दिशानिर्देशों के पालन के साथ बेंगलुरु में दसवीं और 12वीं के लिए कक्षाओं की शुरुआत हुई लेकिन असम में स्‍कूल आज सूना ही देखा गया।

बेंगलुरु के एक छात्र ने कहा, ‘ऑनलाइन क्‍लासेज की तुलना में ऑफलाइन क्‍लासेज बेहतरीन है। मुझे स्‍कूल आकर अच्‍छा लग रहा है। हम Covid-19 गाइडलाइनों का पालन कर रहे हैं।’

केरल के तमाम स्‍कूलों में आज से काम-काज का संचालन फिर से शुरू कर दिया गया। सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों के तहत  शुक्रवार, 1 जनवरी 2021 से राज्‍य भर के स्‍कूलों को दोबारा खोल दिया गया है।

स्‍कूल की शिक्षिका ने बताया, ‘लंबे समय के बाद बच्‍चों को दोबारा स्‍कूल में देख प्रसन्‍नता हो रही है। एक क्‍लासरूम में केवल 10 बच्‍चों को प्रवेश की अनुमति दी गई है और सभी सुरक्षात्‍मक उपाय किए गए हैं।’

Covid-19 महामारी को फैलने से रोकने के लिए बंद स्‍कूलों में 9 माह बाद दोबारा पठन-पाठन शुरू हुआ है।  देश भर के कुछ राज्यों में कक्षा 9 से 12वीं तक की कक्षाएं शुरू करने के साथ ही स्कूल खुल गए थे।

कई राज्य स्कूल को खोलने के पक्ष में नहीं हैं। केरल की तरह जनवरी से कई राज्यों में छठी से 12वीं तक की कक्षाएं शुरू की जाएंगी। इनमें बिहार, झारखंड सहित कई अन्‍य राज्‍यों के नाम शामिल हैं जहां स्कूलों को खोला जाएगा।

जहां तक राष्‍ट्रीय राजधानी Delhi की बात है तो यहां की सरकार का कहना है कि जब तक Covid-19 वैक्‍सीन नहीं आ जाता तब तक स्कूल खोलना सही नहीं है।

Leave a Comment