Haryana में टिड्डियों का हमला, पढ़े खास खबर

Haryana के महेंद्रगढ़ जिले में शुक्रवार को टिड्डी दल का आगमन होने से किसानों की बेचैनी बढ़ गई है। पड़ोसी देश Pakistan से Rajashthan के रास्ते होते हुए शुक्रवार को सिंघाना रोड के आसपास टिड्डी दल का झुंड देखने को मिला है। वहीं, सूचना मिलते ही मौके पर कृषि विभाग की टीम इनकी निगरानी कर रही है। टिड्डी दल कुछ ही देर में फसलों को चट कर जाते हैं।

टिड्डी दल के आगमन के चलते कृषि विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जहां टिड्डी दल का ठहराव होगा, वहां क्लाेरपाइरीफोस नामक दवा का छिड़काव किया जाएगा। कृषि विभाग के अधिकारियों ने सभी कृषि विकास अधिकारियों को अपने अपने क्षेत्र में जागरूक होने तथा किसानों को भी सचेत रहने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने किसानों से कहा है कि यदि उनके क्षेत्र में टिड्डी दल दिखता है तो टीन के खाली पीपे या थालियां बजाकर, डीजे आदि बजाकर भगाने की सलाह दी है। इसके अलावा हल्का धुआं भी किया जा सकता है. लेकिन पर्यावरण की दृष्टि से शोर शराबा कर भगाना उचित ही बता रहे हैं।

कृषि विभाग के उपनिदेशक डॉ. जसविंद्र सैनी का कहना है कि अभी राजस्थान की सीमा से सिंघाना गांव की ओर देखा गया है। इनका ठहराव रात को ज्यादा होता है। इसलिए जिला में Alert किया गया है।

टिड्डी दल एक साथ जिस फसल पर बैठते हैं तो उसके पत्ते और तनों को पूरी तरह नष्ट कर देते हैं। अभी बाजरा और कपास उगी हुई है, इसलिए किसानों को एहतियात बरतने की सलाह दी जा रही है।

टिड्डी दल को खदेड़ने का प्रयास किया जा रहा है। दिन में दवा का छिड़काव नहीं किया जा सकता, इसलिए शोर मचाकर भगाया जा रहा है। जिला मुख्यालय की तरफ टिड्डी दलों के बढ़ने की सूचना मिल रही है।

Leave a Comment