जम्मू-कश्मीर

J&K मे सुरक्षा में तैनात भारतीय जवानों ने एक बार फिर की नापाक हरकत, 4 जवान घायल

Above Article

J&K में सीमा की सुरक्षा में तैनात भारतीय जवानों ने एक बार फिर पाकिस्तान की नापाक साजिशों को नाकाम बना दिया है। रात के अंधेरे में गोलीबारी की आड़ में आतंकवादियों की भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ कराने के इरादे से Pakistan ने देर रात अखनूर-सुंदरबनी के बीच पड़ने वाले खौड़ सेक्टर में अचानक से गोलीबारी शुरू कर दी।

परंतु सतर्क भारतीय जवानों ने न सिर्फ पाकिस्तानी सैनिकों की इस गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया बल्कि घुसपैठ की कोशिश कर रहे तीन आतंकवादियों इस ओर आने से पहले ही ढेर कर दिया।

दो आतंकवादी इस बीच बचकर निकल भागे। वहीं पाकिस्तान की इस गोलीबारी में हमारे चार जवान घायल भी हुए हैं। घायलों का इलाज सैन्य अस्पताल में चल रहा है।

नए J&K में बदलते हालात और यहां का शांत माहौल हमारे दुश्मन पड़ोसी देश को रास नहीं आ रहा है। वह यही साजिशें रचने में लगा हुआ है कि किसी तरह आतंकवादियों को जम्मू-कश्मीर में प्रवेश करवाया जाए ताकि दमतोड़ रहे आतंकवाद को फिर से बढ़ावा मिले।

आतंकी हमलों में वृद्धि लाए जाए। सुरक्षा एजेंसियों को पहले ही पाकिस्तानी सैनिकों व गुलाम कश्मीर में बैठे आतंकी संगठनों के आकाओं के इन मंसूबों की भनक लग गई थी। सुरक्षा एजेंसियों ने J&K Police समेत BSF और सेना को इस बारे में सचेत कर दिया था।

आतंकवादी गणतंत्र दिवस की खुशियों में किसी तरह का खलल न डालें इसी लिए सीमा पर चौकसी बढ़ा दी गई है। सीमा से सटे इलाकों में चौकियों की संख्या भी बढ़ा दी गई है। सीमा से सटे इलाकों में चौकियों की संख्या भी बढ़ा दी गई है। रोजाना तलाशी अभियान भी चलाए जा रहे हैं।

मंगलवार की रात को पाकिस्तानी सैनिकों ने खौड़ सेक्टर में अचानक से भारतीय चौकियों को निशाना बनाते हुए गोलीबारी का सिलसिला शुरू कर दिया। भारतीय जवान भी सतर्क थे। उन्होंने भी जवाबी कार्रवाई शुरू कर दी। उन्हें शक था कि अचानक से की जा रही इस गोलीबारी के पीछे आतंकी घुसपैठ का इरादा है। लिहाजा जवानों ने सीमा पर नजर गढ़ा दी।

इस बीच पांच घुसपैठियों को रात के अंधेरे में छुपते-छिपाते भारतीय सीमा की ओर आते देखा गया। इससे पहले कि पांचों आतंकवादी भारतीय सीमा पर प्रवेश करते जवानों ने तीन आतंकवादियों को वहीं ढेर कर दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button