नई दिल्ली

रतन टाटा की कार की नंबर प्लेट के साथ हुआ कुछ ऐसा, जिसे सुन आप भी रह जाएंगे हैरान

Above Article

Mumbai Police ने व्‍यवसायी रतन टाटा की कार का नंबर इस्‍तेमाल करने के मामले में एक कंपनी की निदेशक महिला को पकड़ा है। आरोपी महिला पर यातायात उल्लंघन मामले को लेकर जुर्माना लगाया गया है और आईपीसी की धारा 420 और 465 और मोटर वाहन अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

यह मामला तब सामने आया जब ट्रैफिक नियम तोड़ने पर रतन टाटा को चालान भेज दिया गया। पुलिस के पूछने पर महिला ने बताया कि उसे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। किसी ज्‍योतिषी के कहने पर वह इस नंबर का प्रयोग कर रही थी।

ये घटना मंगलवार रात की है आरोपी महिला थी इसलिए  पूछताछ के लिए उसे रात के समय थाने में नहीं बुलाया गया। महिला को बुधवार को पूछताछ के लिए थाने में बुलाया गया।

मामला तब समझ में आया जब महिला की गलती पर ई चालान रतन टाटा को भेज दिया गया। चालान का जवाब देते हुए टाटा समूह के अधिकारियों ने बताया कि उनकी कार से किसी भी प्रकार का यातायात उल्‍लंघन नहीं किया गया है।

इसके बाद मामला और गंभीर हो गया, जांच पड़ताल करते हुए पुलिस ने कैमरे के CCTV फुटेज खंगालने शुरु कर दिये जहां से ई चालान जारी किया गया था। जांच में सामने आया कि जिस कार ने यातायात नियमों का उल्‍लंघन किया है उस पर रतन टाटा की कार के नंबर की प्‍लेट लगी हुई है।

जांच में सामने आया कि आरोपी महिला एक कार कंपनी की निदेशक है। पुलिस ने महिला और उसकी कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। माटुंगा पुलिस स्‍टेशन में कार को भी जब्‍त कर लिया गया है।

एक ज्‍योतिष के कहने पर आरोपी महिला ने मूल नंबर प्‍लेट में फेरबदल कर नकली नंबर प्‍लेट का प्रयोग किया था। सच्‍चाई सामने आने के बाद अब यातायात पुलिस ने रतन टाटा के स्वामित्व वाली कार को भेजे गए सभी ई चालान अब आरोपी महिला को भेज दिये हैं।

इस घटना के बाद पुलिस ने आम लोगों से अपील करते हुए कहा है कि कभी भी इस तरह के फर्जी नंबर का प्रयोग न करें नहीं तो आप मुसीबत में घिर सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button