Advertisement

आईसीयू में बुजुर्ग की मौत पर हंगामा, जाने पूरा मामला

कानपुर
Advertisement

चिकित्सा शिक्षा मंत्री के निरीक्षण से पूर्व हैलट आईसीयू में सांप काटने से पीड़ित एक बुजुर्ग महिला की मौत हो गई। परिजनों ने इलाज में लापरवाही का आरोप लगा हंगामा किया। आरोप था कि सीनियर या जूनियर डॉक्टर नहीं आए। Intern Medical Student ने इलाज किया। Police ने मामला शांत कराया, शव वाहन के जरिए घर भेजा गया।

Advertisement

कालपी जालौन निवासी आशा देवी को किसी सांप ने काट लिया था। रविवार को लोगों ने हैलट में भर्ती कराया था। आशा देवी के बेटे अभिषेक का कहना था कि जब से मां को भर्ती कराया किसी सीनियर डॉक्टर ने नहीं देखा। वह अपनी मां को समय पर ठीक-ठाक लेकर आया था। बोल रही थीं, उनकी हालत बिगड़ती रही। डॉक्टरों से कई बार कहा उन्होंने ICU में Shift कर दिया।

मगर जूनियर डॉक्टर भी नहीं आए। इंजेक्शन बाहर से लाए मगर Intern Student  ही मां को देख रहा था। सुबह 8 बजे के आसपास उनकी सांस उखड़ गई। रात भर डॉक्टरों की विनती करते रहे। हंगामा बढ़ा तो Police आई। प्राचार्य प्रो. आरती लाल चंदानी भी आ गईं। समझाने की कोशिश की। शववाहन मंगाकर उसे घर भेज दिया।

शहर के एक नर्सिंग होम में एक मरीज की मौत पर हंगामा हो गया। औरैया निवासी महेन्द्र प्रताप को शुक्रवार रात नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था। परिजनों का आरोप था कि डॉक्टर एक बार आए। Paramedical Staff ने इंजेक्शन लगा दिया उसके बाद खून की उल्टी होने लगी। ICU में 80 हजार रुपए 2 दिन में ले लिए। मरीज की सांस उखड़ गई। आरोप यह भी था कि रविवार को ICU में किसी को जाने नहीं दे रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *