Advertisement

चित्रकूट में दो एक्सईएन समेत चार इंजीनियर निलंबित

उत्तर प्रदेश
Advertisement

CM Yogi Aditya Nath  के चित्रकूट दौरे के दौरान मऊ और बरगढ़ पेयजल योजना में लापरवाही बरतने पर जलनिगम के 4 इंजीनियरों को निलंबित कर दिया गया है। इनमें 2 एक्सईएन और 2 सहायक अभियंता हैं।

Advertisement

पाठा क्षेत्र में पेयजल समस्या को दूर करने के लिए प्रदेश सरकार ने मऊ में 179.27 करोड़ व बरगढ़ में 73.46 करोड़ की लागत से ग्राम समूह पेयजल योजना स्वीकृत की थी। इन पर करीब 7 साल से काम चल रहा है पर अनियमितताओं की वजह से इनसे जुड़े गांवों में आज तक पानी ही नहीं पहुंचा।

जांच के नाम पर मंडलीय व शासन स्तर से टीमें आईं पर कागजी घोड़े ही दौड़ते रहे। 3 दिन पहले आए CM ने विकास कार्यों की समीक्षा दौरान दोनों परियोजनाओं को लेकर नाराजगी जाहिर की थी और जांच कर कार्रवाई के आदेश दिए, जिसके बाद लापरवाह अफसरों पर गाज गिरना शुरू हो गई।

जलनिगम के प्रबंध निदेशक विकास गोठलवाल ने हीलाहवाली बरतने व सही तरीके से क्रियान्यवन नहीं करने पर अधिशासी अभियंता रामबिहारी अग्रवाल व जेपी सिंह के अलावा सहायक अभियंता यशवीर सिंह व अरविंद अवस्थी को सस्पेंड कर दिया। दोनों एक्सईएन मुख्यालय संबद्ध किए गए हैं। जल्द ही इनसे जुड़े ठेकेदारों पर भी शिकंजा कस सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *