Advertisement

यमुना नदी में तीन दिन से बढ़ रहा जलस्तर

उत्तर प्रदेश
Advertisement

यमुना नदी में बीते 3 दिनों से बाढ़ के कारण तटवर्ती इलाकों में जलस्तर कम नहीं हुआ है। ग्रामीणों की मुश्किलें काफी बढ़ती जा रही हैं। गांवों से मुख्य सड़कों की तरफ आवागमन बंद हो चुका है।

Advertisement

बाढ़ के कारण भोगनीपुर तहसील के अमरौधा ब्लाक से जुड़े ग्राम दिबैर की मडै़या, रमपुरा, टयोंग, क्योंटरा, जरी आदि कई गांवों में बीते तीन दिनों से बाढ़ का पानी गांवों के चारों तरफ भर गया है, जिससे इन गांवों व कस्बों की ओर जाने वाले संपर्क मार्ग भी जलमग्न हो गए हैं। इन गांवों के परिषदीय स्कूलों में जाने वाले शिक्षकों का भी आवागमन बंद है।

शाहजहांपुर अमरौधा आदि इंटर कॉलेजों में बच्चों को लोगों ने भेजना बंद कर दिया है। ग्रामीणों को खाने पीने की सामग्री आदि लाने ले जाने के लिए सिर्फ नाव का सहारा है। मंगलवार को और ऊंचाई तक पानी भरने से क्योंटरा गांव के भारत सिंह, मिथलेश, चरन सिंह, खिलावन दशरथ कई परिवारों के घरों में बाढ़ का पानी भर गया, जिससे उनकी गृहस्थी भी डूब गई है।

परिवार घरों को छोड़कर ऊंचे स्थानों पर डेरा डालकर रहने को मजबूर हैं। बाढ़ प्रभावित ग्रामीणों में दिबैर की मडैया के मीरबाबू निषाद टयोंगा के पूर्व प्रधान राजेश निषाद आदि ने बताया बाढ़ के बढ़ने से हजारों बीघे फसल बर्बाद हो चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *