Advertisement

जमीन के पेच में अटकी भगवान राम की प्रतिमा, जाने पूरा मामला

लखनऊ
Advertisement

रामनगरी में दीपोत्सव कार्यक्रम को 24 दिन बचे हैं। तैयारियां शुरू हैं। बिजली सजावट एवं बैरीकेरिंग का ई-टेंडर हो चुका है। CM Yogi Aditya Nath दीपोत्सव मेले को प्रांतीयकृत मेला का दर्जा दिला चुके हैं। उसी दीपोत्सव में भगवान राम की प्रतिमा लगाने की एलान हुआ पर उसके लिए जमीन की खरीद शुरू नहीं हो सकी।

Advertisement

CM के एलान के बाद राम की प्रतिमा लगाने के लिए तेजी देखने लायक रही। CM स्वयं मीरापुर द्वाबा एवं जमथरा में प्रतिमा लगाने के लिए प्रस्तावित स्थल देख चुके हैं। करीब 4.40 करोड़ रुपया जमीन खरीदने के लिए लगभग 6 महीने से सरकारी खजाने में है।

जमीन खरीदने का शासनादेश 27 मार्च का है। 38 करोड़ रुपये श्रीराम की प्रतिमा एवं अन्य मूलभूत पर्यटक सुविधाओं के लिए आवश्यक भूमि का अधिग्रहण एवं क्रय के लिए भगवान राम की प्रतिमा लगाने संबंधी परियोजना की उसी में वित्तीय स्वीकृति है।

पर्यटन संबंधी परियोजनाओं के नोडल एवं क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी आरपी यादव का कहना है कि प्रस्तावित मीरापुर द्वाबा की जमीन कम है। वह करीब 29 हेक्टेयर है। जरूरत उससे अधिक की है। चयन न हो पाने से जमीन की खरीद शुरू नहीं हो सकी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *