Advertisement

पटाखों और आतिशबाजी के धुएं ने बिगाड़ी हवा की सेहत

लखनऊ
Advertisement

पटाखों और आतिशबाजी के धुएं ने Lucknow सहित सूबे के कई प्रमुख शहरों में हवा की सेहत और बिगाड़ दी। Lucknow में दीपावली के बाद Air Quality Index दोगुना तक बढ़ गया, जबकि PM 2.5 का स्तर 500 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर के स्तर में दर्ज हुआ। Lucknow में बीती 26 अक्टूबर को जो Air Quality Index 155 था, वो दीपावली पर 186 रिकॉर्ड किया गया। वहीं, दूसरे दिन यानी 28 अक्टूबर को दोगुना बढ़कर 305 दर्ज हुआ।

Advertisement

यह सिलसिला मंगलवार को भी जारी रहा। मंगलवार को Air Quality Index 314 रिकॉर्ड किया गया। राहत की बात यह रही कि प्रदूषण का स्तर पिछली दीपावली के मुकाबले कम रिकॉर्ड किया गया। इसके पीछे ग्रीन पटाखों की बिक्री और आतिशबाजी के उत्पादन में कमी को भी कारण माना जा रहा है। इस बार दीपावली के अगले दिन पटाखों के शोर में अप्रत्याशित कमी दर्ज की गई।

गाजियाबाद, नोएडा, मुजफ्फरनगर व ग्रेटर नोएडा में Air Quality Index 400 से अधिक दर्ज किया गया। गाजियाबाद मंगलवार को देश का सबसे प्रदूषित शहर रहा, जहां Air Quality Index 446 रिकॉर्ड हुआ। गाजियाबाद के अलावा नोएडा 436 दूसरा सबसे प्रदूषित शहर रहा। ग्रेटर नोएडा व मुरादाबाद में Air Quality Index क्रमश: 428 व 424 रहा।  शहरों में प्रदूषण ने देश की राजधानी Delhi को भी पीछे छोड़ दिया। Delhi में Air Quality Index 400 दर्ज किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *