Advertisement

झारखंड में 30 नवंबर से पांच चरणों में चुनाव

देश
Advertisement

Election commission ने झारखंड Assembly elections के कार्यक्रम की घोषणा कर दी है। राज्य के विधानसभा चुनाव पांच चरणों में 30 नवंबर से 20 दिसंबर तक होंगे और परिणाम 23 दिसंबर को आएंगे। हाल ही में Maharashtra और Haryana में हुए Assembly elections और दोनों जगह किसी भी एक दल को बहुमत नहीं मिलने के मद्देनजर झारखंड के चुनाव अहम हो गए हैं।

Advertisement

शुक्रवार को Chief Election Commissioner Sunil Arora ने बताया कि 81 Assembly seats वाले राज्य में 30 November को पहले चरण का मतदान कराया जाएगा। दूसरे चरण का मतदान सात दिसंबर, तीसरे चरण का 12 दिसंबर, चौथे चरण का मतदान 16 दिसंबर और पांचवे व आखिरी चरण का मतदान 20 दिसंबर को होगा। मतगणना 23 दिसंबर को होगी। चुनाव की घोषणा के साथ ही राज्य में आदर्श आचार संहिता भी प्रभावी हो गई है। राज्‍य में 2014 के Assembly elections भी पांच चरणों में हुए थे। वर्तमान विधानसभा का कार्यकाल अगले साल पांच जनवरी तक है।

नक्सल प्रभावित और संवेदनशील क्षेत्र होने के चलते ही राज्य के चुनावों को पांच चरणों में कराया जा रहा है। पहले चरण में 13 सीटों, दूसरे चरण में 20 सीटों, तीसरे चरण में 17 सीटों, चौथे चरण में 15 सीटों और आखिरी चरण में 16 सीटों पर चुनाव होंगे। राज्य की 67 विधानसभा सीटों को नक्सल प्रभावित माना गया हैं।

 लोकसभा चुनाव के बाद कुछ नियमों को संशोधित किया गया है। इस चुनाव में शारीरिक रूप से अक्षम लोगों को पोस्टल बैलट की सुविधा दी जाएगी। आवश्यक सेवाओं और बुजुगरें को भी पोस्टल बैलट की सुविधा मिलेगी। वहीं, दिल्ली के चुनावों में भी सभी आवश्यक सेवा कर्मचारियों को भी पोस्टल बैलट की सुविधा दी जाएगी।

3.29 करोड़ की जनसंख्या वाले इस राज्य में 2.26 करोड़ वोटर हैं। वोटरों के लिए आयोग ने राज्य में 29,464 पोलिंग स्टेशन तैयार किए हैं और पोलिंग स्टेशन पर तमाम सुविधाएं मौजूद होंगी। चुनाव आयोग ने उम्मीदवारों को साफ किया है कि कोई भी उम्मीदवार अगर नामांकन में कोई कॉलम खाली छोड़ता है तो उसका नामांकन खारिज हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *