Advertisement

शिवसेना के समर्थन में नहीं खड़ी हुई सोनिया गांधी

महाराष्ट्र
Advertisement

Shiv Sena सत्ता की जंग में BJP को पटखनी देने के लिए भले Congress और एनसीपी के पाले में जाने का दांव चलने का संकेत दे रही हो मगर कांग्रेस फिलहाल इस खेल से दूरी बना रही है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी शिवसेना की सरकार का समर्थन करने को राजी नहीं हैं। महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओं के साथ हुई बैठक में सोनिया ने शिवसेना को सीधे समर्थन देने की कोई गुंजाइश नहीं दिखाई। हालांकि राकांपा नेता शरद पवार के फैसले के साथ चलने की मंशा स्पष्ट कर यह भी साफ कर दिया है सोच बदल भी सकती है।

Advertisement

Maharashtra के पार्टी नेताओं के साथ हाईकमान की हुई बैठक के बाद पार्टी के उच्चपदस्थ सूत्रों ने कहा कि बेशक चुनाव के बाद सरकार के गठन को लेकर भाजपा और शिवसेना के झगड़े के हालातों पर व्यापक चर्चा हुई। इसमें पार्टी नेतृत्व की राय थी कि BJP और Shiv Sena के बीच झगड़े की यह स्थिति कोई पहली बार नहीं है।

ऐसे में BJP-Shiv Sena के सत्ता के झगड़े में Congress किसी का मोहरा नहीं बनेगी। हालांकि इस दौरान सूबे के नेताओं ने हाईकमान से कहा कि Shiv Sena व BJP के बीच खटास कहीं ज्यादा है और ऐसे में राजनीतिक उठापटक की संभावना को पूरी तरह खारिज नहीं किया जा सकता।

प्रदेश नेताओं के इस तर्क पर Congress director का कहना था कि सूबे के राजनीतिक घटनाक्रम पर करीबी निगाह रखते हुए निरंतर समीक्षा जारी रहेगी। लेकिन महाराष्ट्र के पार्टी नेताओं को इसका ध्यान भी रखना होगा कि शिवसेना को समर्थन देने के लिए Congress तैयार खड़ी है, यह संदेश नहीं जाना चाहिए। हाईकमान का यह भी कहना था कि Congress और शिवसेना की राजनीतिक विचाराधारा मेल नहीं खाती। ऐसे में प्रदेश Congress नेताओं को बेहद सतर्कता से सूबे में भाजपा-शिवसेना के सत्ता के दांव-पेंच को समझना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *