Advertisement

बीसलपुर नगर बना बिजली के तारों का मकड़ी का जाल

पीलीभीत
Advertisement

 

Advertisement

बीसलपुर(पीलीभीत)। नगर क्षेत्र बीसलपुर में जिस तरह से विद्युत तारों का जाल फैला हुआ है और मकान व दुकानें इससे बिल्कुल सटी हुई है। उससे विधुत विभाग नगरवासी के साथ होने बारे बड़े खतरे से अनभिज्ञ हैं,विद्युत तारों के जाल कभी भी दुर्घटना को अंजाम दे सकते हैं।

बहुमंजिला भवनों का निर्माण होने से तारों और भवनों के बीच की दूरी कम होती जा रही है। बीसलपुर में विद्युत तार भवन व दुकानों के इतने नजदीक हैं,कि इससे कभी भी शार्ट सर्किट के कारण बड़ा हादसा हो सकता है|

जो लोग भवन व दुकानें बना रहे हैं, वह भी पोल व तारों से सटकर बना रहे हैं,वह खतरों से अनजान हैं, उन्हें यह नहीं लगता कि इससे नुकसान भी हो सकता है मुख्य चौराहे से लेकर 12 पत्थर ,स्कूल बड़ा चौराहा, पुराना डाकखाना, और तहसील रोड पर जितने भी भवन दुकानें बनी हैं।

उनके और विद्युत तारों के बीच की दूरी नाम मात्र की है, कई जगहों पर तो हाथ से तारों को छूआ जा सकता है।इतना ही नहीं इनके साथ कई केविल लाइनें भी जुड़ी हैं जो कई बार विद्युत तारों से टच हो जाती हैं |

Advertisement

तारों का यह जाल कभी भी बड़े हादसे को जन्म दे सकता है इतना ही नहीं कई जगह पर हाईटेंशन विद्युत लाइन में भी मकानों के काफी नजदीक हैं।नगर में भवन बनाने के जो मानक है और उसमें विद्युत विभाग की स्वीकृति भी ली जाती है |लेकिन यह ऐसा कुछ नहीं हो रहा है सब अपने तरीके व सुविधा के अनुसार मकान बना रहे हैं।

बाप विद्युत कनेक्शन ले रहे हैं अभी जल्द ही सरकारी अस्पताल के पास शार्ट सर्किट के कारण ट्रांसफार्म हो गया फिर भी इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है विद्युत विभाग की ओर से भी किसी को नहीं अगाह किया जाता है।

रिपोर्टर अनुभव सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *