विधुत विभाग की घोर लापरवाही से एक सप्ताह में तीन पालतू जानवरों की मौत, आज भैस उतरी मौत के घाट

इटावा

स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्राम नगला मथुरी में एक किसान की भैंस ग्यारह हजार हाईटेंशन लाइट की चपेट में आने से मौत के घाट उतर गयी। जब कि एक सप्ताह पूर्व उक्त स्थल पर दो किसानों की भी वेश कीमती बकरी करेंट से बुरी तरह झुलश कर खत्म हो गई थी।
मालूम हो कि चकरनगर क्षेत्र में विजली बिभाग की घोर लापरवाही के चलते किसान को एक के बाद एक बड़ी मार झेलनी पड़ रही है । कँधेशी मौजा की जमीन के समीप जंगल मे एक टीले की जमीन से मात्र दो फुट ऊपर ग्यारह हजार के हाईटेशन लाइन हिलोरे ले रही है।तो वही आज सोनवीर यादव पुत्र रामअवतार नगला मथुरी की भैंस जंगल मे चरते वक्त चपेट में आ गयी है जिससे मौके पर कीमती भैस मौत के घाट उतर गयी । देखो बिडम्बना इस बात की है कि बिजली बिभाग की घोर लापरवाही की हद पार हो गयी जब एक सप्ताह पूर्व उसी घटना स्थल पर जोनानी गांव के सत्यवीर व चतुर की दो बकरी उक्त हाईटेंशन लाइट की चपेट में आ गयी थी। और उनकी भी मौके पर मौत हो गयी थी उक्त दोनो पशुपालक के द्वारा बिजली बिभाग के खिलाफ तहरीर दर्ज कराई थी। इतना सब कुछ होने के बाद बिजली कर्मियों की नींद नही खुली और एक सप्ताह के अंदर एक और किसान की भैंस बली चढ़ गई। उक्त हाईटेंशन लाइन इतनी नीची है कि बकरी की लंबाई से आंकड़ा लगाया जा सकता है । वहीं ग्रामीणों का कहना है कि अगर कोई सुधार नही होता जानवरो के साथ साथ जन हानि भी होना कोई बड़ी बात नही होगी। बारिश का मौसम होने की बजह से किसान अपने जानवरो को जंगल आदि में चराने के लिए ढीलता है। किसान उक्त स्थल पर जानवर न जाए तो बहुत देख रेख करते है लेकिन उक्त लाइन काफी लम्बाई लिए हुए है और वो हाईटेंशन के तार जमीन से मिहाज दो फिट की लंबाई पर हिलोरे लेते है।

रिपोर्ट बीपी पांण्डेय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *