Advertisement

मकर संक्रांति से शुरू होगा श्रीराम मंदिर के निर्माण के लिए धन संग्रह का अभियान

उत्तर प्रदेश
Advertisement

अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर के निर्माण के लिए धन संग्रह का अभियान मकर संक्रांति से शुरू होगा। चार लाख से अधिक स्वयंसेवक मंदिर निर्माण में सहयोग के लिए करीब 12 करोड़ परिवारों तक पहुंचेंगे।

Advertisement

ये स्वयंसेवक लोगों को श्रीराम जन्मभूमि मंदिर की ऐतिहासिक सच्चाई से अवगत कराएंगे। लोगों से स्वयं सहयोग की अपील की जाएगी। जनसंपर्क अभियान माघ पूर्णिमा तक चलेगा। वहीं काम शुरू होने पर 36 महीने में मंदिर के शिखर पर पताका फहराने लगेगी।

यह जानकारी विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय उपाध्यक्ष तथा श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने प्रेसवार्ता में दी। उन्होंने बताया कि भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर पूरी तरह जनता के सहयोग से बनेगा।

मंदिर के लिए लाखों लोगों ने अपना जीवन दिया है अब करोड़ों लोग योगदान देंगे। अभियान के तहत स्वयंसेवक पांच लाख से अधिक गांवो में घर-घर पहुंचेगे और करीब 60 करोड़ लोगों से उनका संपर्क होगा।

चंपत राय ने बताया कि निर्माण कार्य शुरू होने पर 36 महीने में मंदिर के शिखर पर पताखा फहराने लगेगा। बारिश से पहले नींव का काम पूरा करने की तैयारी है। मंदिर जिस स्थान पर बनना है वहां 60 मीटर तक नीचे लूज बाल है।

Advertisement

नींव को भूकंपरोधी बनाना है। ऐसी मजबूत नींव बने जिसका जीवन कम से कम 1000 वर्ष हो। इस नींव पर करीब 45 टन प्रति स्कवायर मीटर का लोड पत्थरों का होगा। नदी के प्रवाह को रोकने के लिए रीटेनिंग वॉल भी बनाया जाएगा। नींव भी पत्थरों के ब्लाक से से ही बनेगा।

 

उन्होंने बताया है कि सहयोग के लिए दस, सौ और एक हजार रुपये के कूपन छपवाए गए हैं। रसीद भी छपवाए जाएंगे। 10 रुपये के चार करोड़, 100 रुपये के आठ करोड़ और 1000 रुपये के 15 लाख कूपन होंगे।

इसके अलावा 15 लाख रसीदें भी होंगी। कूपन के माध्यम से हर घर में श्रीराम मंदिर का चित्र पहुंच जाएगा। कूपन पोस्टकार्ड साइज का है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *