आज जायजा लेने के लिए चेन्नई पहुचे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, पढ़े पूरी खबर

अंतराष्ट्रीय

कोरोना टीकाकरण की तैयारियों को लेकर आज देश भर में ड्राई रन किया जा जा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन आज इसका जायजा लेने के लिए चेन्नई पहुंचे। यहां उन्होंने कहा, दो जनवरी को हमने 125 जिलों में ड्राई रन चलाए।

आज  तीन राज्यों को छोड़कर पूरे देश में टीकाकरण का पूर्वाभ्यास किया जा रहा है। उन्होंने स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम करने वाले एनजीओ से टीकाकरण अभियान में मदद की अपील की।

इसस पहले मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा कि स्वास्थ्य मंत्री ने राज्यों के साथ बैठक में पूर्वाभ्यास की तैयारियों को सफल बनाने को कहा। देश के 736 जिलों में यह पूर्वाभ्यास हो रहा है, जिसमें जिला स्तर के अधिकारी भी शामिल हो रहे हैं। प्रत्येक जिले में तीन स्थानों पर पूर्वाभ्यास का आयोजन किया जा रहा है।

भारत ने कम समय में टीके डेवलप किए हैं। अगले कुछ दिनों में हमें अपने देशवासियों को ये टीके देने में सक्षम होना चाहिए। यह हमारे हेल्थकेयर पेशेवर को दिया जाएगा, जिसके बाद फ्रंटलाइन वर्कर्स होंगे: डॉ. हर्षवर्धन

स्वास्थ्य मंत्री आज चेन्नई में तीन स्थानों पर इसका जायजा लेंगे। इसमें दो सरकारी अस्पताल तथा एक अपोलो अस्पताल का टीकाकरण केंद्र शामिल है। पिछली बार जब दो जनवरी को पूर्वाभ्यास हुआ था तो उन्होंने दिल्ली में दो जगहों का दौरा किया था।

देश में दो कोरोना टीकों को मंजूरी दी जा चुकी है। इनमें कोविशील्ड और कोवैक्सीन शामिल है। इसके बाद जल्द टीकाकरण अभियान शुरू होने की संभावना है। महीने के मध्य में इसके शुरू होने की बात कही जा रही है।

पूर्वाभ्यास पर नजर रखने का राज्यों से अनुरोध
हर्षवर्धन ने राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों से अनुरोध किया कि वे पूर्वाभ्यास पर निजी तौर पर नजर रखें। उन्होंने कहा कि देश ने कोविड महामारी के खिलाफ कामयाब जंग का एक साल पूरा कर लिया है।

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के संयुक्त निगरानी समूह की Covid-19 पर पहली बैठक 8 जनवरी, 2020 को आयोजित की गई थी।

कोरोना योद्धाओं के अथक प्रयास और अडिग समर्थन की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि भारत की न केवल विश्व में रिकवरी दर सबसे अधिक है, अपितु यह अन्य देशों के लिए आशा की किरण बना, जो एन-95 मास्क, पीपीई किट के लिए भारत से निर्यात पर निर्भर हैं। उन्होंने भारत के इस बदलाव का श्रेय माननीय प्रधानमंत्री के नेतृत्व में आत्म निर्भर योजना को दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *