Delhi समेत कई राज्यो मे शीतलहर का प्रकोप, ठंड से नही राहत

नई दिल्ली

Delhi समेत पूरे उत्तर भारत में फिलहाल ठंड कम होने के कोई आसार नहीं दिख रहे। पहाड़ों में अब भी शीतलहर की स्थिति बनी हुई है। इसका असर मैदानी इलाकों में भी दिखाई दे रहा है। 21 जनवरी की रात से एक नए पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की वजह से 22 और 23 तारीख को मौसम और बेरहम हो सकता है।

इसके असर से पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी होगी, जबकि उत्तर और उत्तर पश्चिमी राज्यों में बारिश की संमभावना है। आने वाले दो-तीन दिन तक शीतलहर चलेगी और तापमान में गिरावट आएगी।

भीषण ठंड से जूझ रहे कश्मीर के लोगों को फिलहाल कोई राहत नहीं मिल रही है। शीतलहर अब भी परेशानी का सबब बनी हुई है। वहीं, जम्मू का अधिकतम तापमान करीब डेढ़ महीने के बाद 20 डिग्री सेल्सियस के पार गया है।

इस बीच, जम्मू-कश्मीर में 22 जनवरी से बारिश और बर्फ गिरने के पूरे आसार हैं। कश्मीर में वर्तमान में सबसे ठंड 40 दिन का चिल्लेकलां चल रहा है। यह 21 दिसंबर से शुरू हुआ था। ठंड दो दशकों तक के रिकार्ड तोड़ रही है।

उत्तराखंड के मैदानी इलाकों में आज शीतलहर को लेकर मौसम विभाग ने यलो अलर्ट जारी किया है। हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में तापमान में गिरावट आ सकती है। दून समेत अन्य शहरों में मौसम सामान्य रहने के आसार हैं।

 

हिमाचल प्रदेश में भी 23 जनवरी से मौसम का मिजाज बदलेगा। मौसम विभाग ने बर्फबारी और बारिश होने के की संभावना जताई है। वहीं, अभी शीतलहर के चलते तापमान में गिरावट आई है। मौसम साफ रहने पर भी शीतलहर से राहत के नहीं आसार।

सुबह के समय शीतलहर चलने और मध्यम से घने कोहरे की संभावना है। न्यूनतम तापमान पांच डिग्री के आसपास रहेगा, लेकिन पश्चिमी दिशा से आने वाली शुष्क हवाओं के कारण धूप जल्द खिल जाएगी, जिससे तापमान में नौ बजे से वृद्धि शुरू हो जाएगी। पिछले 15 वर्षो में सिर्फ दो बार परेड के आयोजन में बारिश ने बाधा डाली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *