Advertisement

जाने दुबई के लिए एयर इंडिया की सभी उड़ानें कब तक के लिए निलंबित

अंतराष्ट्रीय
Advertisement

दुबई ने Air India की सभी सेवाओं को अपने देश में 2 अक्टूबर तक निलंबित कर दिया है। विमान में सवार एक कोरोना संक्रमित यात्री के मिलने के बाद दुबई प्रशासन ने यह फैसला किया है।

Advertisement

दुबई सिविल एविएशन अथॉरिटी के एक बयान कर इसकी जानकारी दी है। बयान में कहा गया है कि जयपुर से दुबई आ रहे विमान में सवार एक कोरोना पॉजिटिव यात्री के पाए जाने के बाद Air India की सभी विमान सेवाओं को अगले 15 दिनों यानि 2 अक्टूबर तक निलंबित कर दिया गया है।

भारत से यात्रा करने वाले प्रत्येक यात्री को यात्रा से 96 घंटे पहले आरटी-पीसीआर परीक्षण से मूल कोरोना-नेगेटिव प्रमाणपत्र लाने की आवश्यकता होती है।

अधिकारियों ने कहा कि एक यात्री, जिसके पास COVID पॉजिटिव सर्टिफिकेट था, जिसने 2 सितंबर को एयर इंडिया एक्सप्रेस ‘जयपुर-दुबई फ्लाइट 4 सितंबर को यात्रा की थी। इसी तरह की एक घटना पहले एयरलाइन की दुबई की अन्य उड़ानों में से एक यात्री के साथ हुई थी।

अधिकारियों ने कहा कि इसलिए, दुबई नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने 18 सितंबर से 2 अक्टूबर तक एयर इंडिया एक्सप्रेस उड़ानों को निलंबित कर दिया है।

Advertisement

अधिकारियों ने बताया कि Air India एक्सप्रेस की उड़ानों के दौरान भारत से दुबई के लिए COVID पॉजिटिव सर्टिफिकेट के साथ उड़ने वाले यात्रियों की दोनों घटनाएं पिछले कुछ हफ्तों के दौरान हुईं।

इस मामले के बारे में पूछे जाने पर, एयर इंडिया एक्सप्रेस ने कहा कि वह यात्रियों की कठिनाई को कम करने पर ध्यान केंद्रित कर रही है और वह अपनी चार दुबई उड़ानें संचालित करने की योजना बना रही है, जो शुक्रवार को भारत से संचालित होने वाली हैं।

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने स्पष्ट किया है कि विदेश से आने वाले यात्रियों को एंट्री पोर्ट पर कोरोना जांच के बाद निगेटिव होने पर ही घरेलू कनेक्टिंग फ्लाइट पकड़ने की अनुमति मिलेगी।

विदेश से आए सभी यात्रियों को कनेक्टिंग फ्लाइट पकड़ने से पहले आरटी-पीसीआर टेस्ट कराना होगा। टेस्ट निगेटिव रहने पर ही वे अपने शहर के लिए घरेलू कनेक्टिंग फ्लाइट पकड़ सकेंगे। कोरोना जांच की रिपोर्ट आने में करीब सात घंटे लगेंगे। इस दौरान उन्हें एंट्री पोर्ट के लाउंज में ही समय बिताना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *